Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

वारदात: होली के पहले चोर सक्रिय लेकिन पुलिस भी सख्त, पुलिस के जाल में फंस रहे चोर

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिलपुर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

बाइक चोरी: चोर सहित चार लोग गिरफ्तार
सिविल लाइन पुलिस ने चोरों के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से चोरी की बाइक व स्कूटी सहित 9 गाड़ियां, दुपहिया गाड़ियों के इंजन व पार्ट्स बरामद किए गए। शहर व आसपास क्षेत्र में आए दिन हो रही बाइक चोरियों के मद्देनजर एसपी प्रशांत अग्रवाल ने हाल में ही पुलिस के प्रमुख अधिकारियों व थाना प्रभारियों की बैठक ली थी। उन्हें घटना पर लगाम लगाने और चोरों को पकड़ने के निर्देश दिए गए थे। इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने चोरों को पकड़ने के लिए मुखबिरों को लगाया और इसका असर हुआ। सिविल लाइन पुलिस को सूचना मिली कि असलम खान 33 मोपका रामकृष्ण नगर सरकंडा, अपने साथी ललित साहू उर्फ ​​लक्की 28 साल इंटरनगरी कल्लू बाड़ा सिटी कोतवाली और लवकुश तिवारी 28 साल आरजे कॉलोनी यदुनंदन नगर तिफरा सिरगिट्टी के साथ चोरी की स्कूटी में इमलीपारा के लिए घूम रहे थे। । यह भी पता चला कि ये तीनों पहले भी बाइक चोरी के मामले में पकड़े जा चुके हैं। सूचना के आधार पर सिविल लाइन पुलिस ने घेराबंदी की और असलम खान, लवकुश तिवारी व ललित साहू को पकड़ लिया। हस्तक्षेप में तीनों ने शहर के कई स्थानों से बाइक चोरी करना स्वीकार किया। पुलिस ने निर्माताओं देवकुमार राजपूत 30 वर्ष तैय्यबा चौक परपारा सिविल लाइन को भी उनकी स्कैनरदही पर गिरफ्तार किया। इसी तरह उनके बताए स्थानों पर जाने के लिए 5 बाइक व 4 स्कूटी बच जाए। टीआई सनिप रात्रे के अनुसार आरोपियों ने व्यापार विहार, अग्रसेन चौक, बृहस्पति बाजार, कलेक्टोरेट परिसर, नेहरू चौक, राजीव प्लाजा, पुराना बस स्टैंड, बृहस्पति बाजार से ये गाड़ियां चोरी की थी। उनके कब्जे से 4 स्कूटी, 5 बाइक व 2 स्कूटी का चेसिस, इंजन व गाड़ियों के अन्य हिस्से किए गए।

व्यापार विहार से 1.20 लाख का माल चोरी
व्यापार विहार के तीन दुकानों में शनिवार की तड़के चोर घुसे। दो में चोरी की पर तीसरे में उन्हें कुछ हासिल नहीं हुआ और भाग गया। चोर सामान के अलावा रुपए पैसे सहित 1.20 लाख का माल ले गए। व्यापार विहार परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों में संदेहियों की तस्वीर कैद हो गई है। तारबाहर पुलिस ने उनकी तलाश शुरू कर दी है। घटना तड़के 3 से 3.30 बजे की है। सबसे पहले चोर थोक सामानों के विक्रेता विकास सतपाल के लव ट्रेडर्स में घुसे। दुकान का 400 अटासकर चोरों ने यहां से लगभग 20 हजार के चॉकलेट व 80 हजार के सिक्के ले लिए। सिक्के बोरी व गत्ते में थे। यहां से चोरी करने के बाद उन्होंने हरीश पमनानी के राष्ट्रीय सेल्स को निशाना बनाया और भीतर घुसकर करीब 20 हजार रुपए ले गए। यह राशि गल्ले में थी। इसके अलावा चोर सुनील स्टोर में घुसे। बुलेट तक चली गई पर कुछ नहीं मिला और लौट गए। सुबह करीब 5.30 बजे दुकान संचालकों को चोरी का पता चला और वे दुकान पहुंचे। जहाँ पर चोरी हुई वहाँ सीसीटीवी कैमरे लगे थे पर दुकान संचाकारों ने रात को घर जाने का समय रात को बंद कर दिया था। । व्यापार विहार परिसर में लगे कुछ कैमरों में तीन चोरों की तस्वीर कैद हुई है। इसमें रात 1.30 बजे से 2.30 बजे तक व्यापार विहार में पुलिस गश्त करते हुए नजर आ रही है। चौकीदार भी यहाँ मौजूद था। रात 3 से 3.30 बजे यहां चोर पहुंचे थे।

शराब दुकानों में ग्राहक बनकर मोबाइल चोरी करने वाले साथियों के चार पकड़े गए
भीड़ का फायदा उठाकर शराब दुकानों में खड़े ग्राहकों के मोबाइल चोरी करने वाले चार लोगों को सरकंडा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से 23 मोबाइल बच गए हैं। सरकंडा बंधवापारा निवासी रोहित कुमार गाए 22 फरवरी की रात को शनिचरी शराब दुकान गया था। इस दौरान उसका मोबाइल पार हो गया था। थाने में शिकायत के बाद पुलिस शराब की दुकान में लगे सीसीटीवी का फुटेज देखा। इसमें एक युवक रोहित की जेब में हाथ डालते और मोबाइल निकालते हुए आ रहा था। पुलिस ने प्रदर्शनही की तलाश की और उसे पकड़ लिया। चोरी करने वाला युवक काठकोनी निवासी सत्यम नायडू निकला। हस्तक्षेप में उन्होंने अपने साथी उपेंद्र वस्त्रकार 21 वर्ष तिथिपुरी नवागांव सकरी, मंथन बघेल 18 वर्ष जरहागांव जिला मुंगेली व संजीव जांगड़े काठकोनी का नाम बताया। चारों ओर अलग-अलग शराब दुकानों से चोरी करते थे। सभी को पुलिस ने किया गिरफ्तार उनके कब्जे से 23 मोबाइल बच चुके हैं। इसमें से केवल एक ही मोबाइल की चोरी का केस दर्ज है। 22 मोबाइल मालिकों की पुलिस जानकारी जुटा रही है। चोरी के आरोपियों ने पुलिस को बताया कि शराब दुकानों में भीड़ का फायदा उठाकर लाइन में लग जाते थे। इसके बाद मोबाइल चोरी कर साथी को दे देते थे। साथी के बारे में फरार हो जाता था। चोरी करने वाला शराब खरीदता था।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: