Harshit India news

breaking news | Bhopal local news | Madhya Pradesh news | Indore news

सच हुआ भास्कर की भविष्यवाणी: मीनल चौबे को भाजपा ने दी नई जिम्मेदारी, रायपुर नगर निगम का नेता प्रतिपक्ष बनाया; 1 साल बाद विपक्ष को लीडर मिल गया

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर32 मिनट पहले

  • (*1*)
  • कॉपी लिस्ट
  • रायपुर नगर निगम में अब विपक्ष का चेहरा होगा मीनल, गुरुवार को हुई बैठक के बाद शुक्रवार शाम हुई नाम की घोषणा
  • हर भाजपा पार्षद से एक-एक कर मांगा गया था सुझाव, प्रदेश प्रभारी और संगठन के बड़े नेताओं से सहमति के बारे में घोषणा की जाएगी

नगर निगम के चुनाव के लगभग 1 साल पूरे होने के बाद अब भाजपा ने नेता प्रतिपक्ष का नाम तय कर लिया है। शुक्रवार शाम को नेता प्रतिपक्ष की घोषणा की गई। मीनल चौबे को इस पद के लिए चुना गया है। दैनिक भास्कर ने पहले ही बताया था कि नाम की घोषणा शुक्रवार देर रात तक हो सकती है। तीन पार्शदों में सबसे ऊपर मीनल चौबे का नाम था। इसके बाद सूर्यकांत राठौड और मृत्युंजय दुबे भी नेता प्रतिपक्ष की रेस का हिस्सा रहे।

गुरुवार को करीब 4 घंटे चली बैठक बेनतीजा रही थी। सभी पार्शदों को प्रदेश भाजपा कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में बुलाया गया था। हर पार्षद से पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विक्रम थेंडी, प्रदेश महामंत्री भूपेंद्र सवानी और रायपुर जिले के प्रभारी खूबचंद पारख ने बंद कमरे में चर्चा की थी। नगर निगम में इस समय 3 निर्दलीय, 38 कांग्रेस और 29 भाजपा के पार्षद हैं।

इस कारण से मीनल बनीं नेता प्रतिपक्ष
तीन बार पार्षद चुनाव जीत चुके हैं मीनल चौबे भाजपा में संगठन के स्तर पर भी सक्रिय हैं। इस समय रायपुर की नगर निगम में सीनियर पार्षदों में से एक हैं। जब भाजपा से माहापौर तय करने को लेकर समीकरण बन रहे थे, तब भी मीनल का नाम नियंत्रित किया गया था। नगर निगम में इस बार महिला पार्षदों का भी दब-दबा है। दूसरी ओर सूर्यकांत राठौड़ पहले भी नेता प्रतिपक्ष रहे थे। इस बार पार्शदों की बैठक में नए चेहरे को मौका दिए जाने की चर्चा जोरों पर रही। लगभग सालभर पहले भी नेता प्रतिपक्ष को लेकर हुई चर्चा में मीनल चौबे का नाम कई पार्षदों ने सहजता से रखा था।

सूर्यकांत राठौड़ के लिए इन बड़े लोगों ने की लॉबिंग की
पार्टी के कद्दावर नेता और रायपुर से विधायक बृजमोहन अग्रवाल इससे पहले नेता प्रतिपक्ष चुनने की समिति के संयोजक का समर्थन कर चुके हैं। उन्होंने सूर्यकांत राठौड़ के नाम की सिफारिश की, लेकिन तब पार्शदों ने विरोध कर दिया। संगठन स्तर के नेता भी तब सूर्यकांत को जिम्मा सौंपने के पक्ष में नहीं रहे और मामला टल गया। सूत्रों के मुताबिक गुरुवार को हुई बैठक के पहले भी पार्टी के बड़े नेता सूर्यकांत को ही नेता प्रतिपक्ष बनाने पर जोर देते रहे। खबर ये भी है कि कई पार्शदों के पास खुद सांसद सुनील सोनी ने फोन पर बात की और उन्हें भरोसे में लिया था।

मृत्युंजय को विजय नहीं मिली?
नेता प्रतिपक्ष की रेस में मृत्युंजय दुबे का नाम भी शामिल रहा। महापौर पद के लिए भाजपा की तरफ से उन्होंने पूरा किया था। दैनिक भास्कर से चर्चा में दुबे ने कहा कि गुरुवार को सभी पार्शदों से बड़े नेताओं से बात की है। हो सकता है कि मेरा नाम भी आसानी से हो गया, मैं लंबे समय से काम करता रहा हूं, पार्शदों ने मेरा काम देखा। नाम की घोषणा को लेकर उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष चुनने की प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी है, संगठन की तरफ से जो भी नाम तय हुआ है वह मुझे मंजूर है।

जानिए बंद कमरे में हुई बैठक में क्या हुआ था
गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी के सभी पार्षद कुशाभाउ ठाकरे परिसर पहुंचे। सिर्फ विश्वदिनी पांडे और नारद कौशल नहीं आए। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी, प्रदेश महामंत्री भूपेंद्र सवानी और जिला प्रभारी खूबचंद पारख ने सभी पार्षदों से कहा कि हम आज शाम तक नाम का एलान कर देंगे। पार्षदों से प्रमुखों ने कहा कि वह जो भी नाम करेगा वह संगठन को मंजूर होगा, हमारी तरफ से किसी के साथ अन्याय नहीं होगा, आप हम पर भरोसा कर सकते हैं।

यह कहकर तीनों नेता कमरे में चले गए। इसके बाद एक-एक पार्षद को बुलाया गया, सभी से दो नाम पूछे गए और वोटिंग की तरफ एक लिस्ट में नामों के आगे नेता टिक लगाते गए। बैठक खत्म होने के बाद दो घंटे तक तीनों नेता कमरे में ही रहे। चर्चा है कि प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी को भी नामों की जानकारी दी गई। बाहर आकर लोगों का विश्वास दिलाया कि उस रात तक नामों का ऐलान कर देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अब शुक्रवार शाम को मीनल चौबे के नाम का एलान कर दिया गया। विक्रम थेंडी ने दैनिक भास्कर को बताया कि ज्यादातर पार्शदों से मिली रिपोर्ट के बाद ये फैसला लिया गया।

खबरें और भी हैं …

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: